ALL देश- प्रदेश राजनीति अपराध ग्वालियर भ्रष्टाचार विशेष
हनीट्रेप - मास्टर माइंड से आयकर की पूछताछ, हो सकते हैं बड़े खुलासे
January 13, 2020 • Jitendra parihar

सुनहरा संसार -

मध्यप्रदेश के बहुचर्चित हनीट्रैप मामले की मुख्य आरोपी श्वेता विजय जैन को आयकर विभाग ने भोपाल तलब किया है। इंदौर जेल से पुलिस सुरक्षा के बीच उसे भोपाल में आयकर कार्यालय लाया गया है। यहां आयकर विभाग के अधिकारी उससे गहन पूछताछ करेंगे। आयकर विभाग की इस कार्यवाही से प्रदेश की नौकरशाही और राजनीति में हड़कप की स्थिति है। 

सूत्रों के मुताबिक बन्द कमरे में आयकर विभाग की टीम श्वेता विजय जैन की संपत्ति और पैसे के बारे में पूछताछ कर रही है, वही दफ्तर के अंदर और बाहर पुलिस बल तैनात है. इससे पहले श्वेता जैन के पास से बरामद हुई डायरी और अन्य कागजातों से मोटी रकम का खुलासा हुआ था, जिसकी जांच अब आयकर विभाग की टीम कर रही है। 

 प्रदेश में सरकार बदलने के बाद से ही हनीट्रैप का मामला सुर्खियों में है। इस पूरे मामले में 5 महिलाओं के साथ कई अफसर,पत्रकार और नेता भी लिप्त पाए गए हैं। उधर  हनी ट्रैप का खुलासा करने वाले अखबार के मालिक जीतू सोनी की मुश्किलें भी बढ़ती जा रही हैं, राज्य सरकार ने सोनी की गिरफ्तारी पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित कर दिया है। मध्यप्रदेश की सियासत में हलचल पैदा कर देने वाले हनीट्रेप मामले में बड़ा मोड़ तब आया, जब हाई कोर्ट की इंदौर बेंच में 15 घंटे की सीडी सौंपकर मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की गई। हनीट्रेप की मास्टर माइंड से आयकर विभाग द्वारा की जाने वाली पूछताछ से उम्मीद की जा रही है कि इस पूछताछ में कुछ अफसर और नेताओं के चेहरों से नाकाब और हट सकता है। इसको लेकर राजनीतिक और प्रशासनिक गलियारों में खलबली मचना तय है। 

 
हनीट्रेप से जुड़े अधिकारियों को तत्काल बर्खास्त किया जाए -  गुप्ता 

मध्य प्रदेश के बहुचर्चित हनी ट्रैप कांड में मप्र के आईएएस अफसरों के नाम आने पर संघ लोक सेवा आयोग के पूर्व चेयरमैन दीपक गुप्ता ने कहा है कि यदि आईएएस अफसरों का ऐसे मामले में नाम साबित होता है तो उन्हें तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए। इससे बड़ा संदेश जाएगा बसर्ते कोल घोटाले जैसा मामला न हो । दीपक गुप्ता रविवार को भोपाल लिटरेचर फेस्टिवल में आईएएस अधिकारी का भविष्य विषय पर परिचर्चा में भाग लेने आए थे।